Latest Post

Wednesday, 12 July 2017

A Gift for Guru Festival

A Gift for Guru Festival

गुरु पर्व के शुभ अवसर पर एक तोफा

(आदिश्री) 


A Gift for Guru Festival

नफरत के शहर में हर अब हर चमन वीरान होंगे
कल्कि का नाम सुन कर हर पापी पड़ेशान  होंगे 
खत्म सारी अपनी दोस्ती सभी अधर्मियों से
पापी और अधर्मियों की दोस्ती अब पड़ेशान होंगे
जब प्रभु कल्कि की तलवार उन पर चलेंगे

स्वर्ग से चल कर श्रेष्ट आत्मा धरती पर विराजमान होंगे    
Post a Comment