Latest Post

Monday, 6 March 2017

SAY TO ALL

SAY TO ALL

कह दो सबसे 

आदिश्री अरुण 

SAY TO ALL

AY TO ALLS

समझना खुद को था
समझा जो कुछ, अधूरा था
जो कहना था न कह सका
क्योंकि वह अधूरा था
क्या लेकर जाना है साथ में,
दुनिया यह छाया की मेला है
मीठे बोल बोलकर रिश्तों को बनाए रखो
सच ये है शेष सभी झमेला है
जिंदगी में हम कितना सही और कितना गलत हैं
सिर्फ दो ही जानते हैं
वो सिर्फ ईश्वर और आत्मा हैं
बस हैरानी इस बात की है कि
दोनों को कभी सबके सामने
नजर नहीं आने हैं 
Post a Comment