Like on Facebook

Latest Post

Thursday, 17 November 2016

What is the way of destroying Sorrow?

What is the way of destroying Sorrow?

क्या  है  दुखों  को  नाश  करने  का उपाय ?

(ईश्वर पुत्र अरुण) 

क्या  है  दुखों  को  नाश  करने  का उपाय ?
What is the way of destroying Sorrow?
ईश्वर ने कहा कि दुखों को नाश करने का ठोका - बजाया  उपाय योग है उसको जानना चाहिए  लेकिन जिसका मन वश में  किया हुआ नहीं है, ऐसे पुरुष द्वारा योग संभव नहीं  है । तब योग  की  सिद्धि किस प्रकार होगी यह जानने  की  जरुरत है ।   

गीता 6:23 में ईश्वर ने कहा कि जो दुःखरुप संसार के संयोग से रहित है तथा जिसका नाम योग है; उसको जानना चाहिए । यह मन बड़ा चंचल, प्रमथन स्वभाव वाला, बड़ा दृढ़  और बलवान है ।  यह कठिनता से वश में होने वाला है । उसको वश में करना वायु को रोकने की भाँति अत्यंत कठिन है ऐसा गीता 6:34 में ईश्वर ने कहा । जिसका मन वश में  किया हुआ नहीं है, ऐसे पुरुष द्वारा योग संभव नहीं  है । 

गीता 6:17 में ईश्वर ने कहा कि दुखों को नाश करने वाला योग तो यथायोग्य आहार - विहार करने वाले का, कर्मों में यथायोग्य चेष्टा करने वाले का और यथायोग्य सोने तथा जागने वाले का ही सिद्ध होता है । एक दिन में 24 घंटे होते हैं जिसमें 
(1) 2 घंटे खाने में तथा घूमने में (Walking करने में) खर्च करो 
(2) 8 घंटे काम या नौकरी करने में खर्च करो 
(3) 6 घंटे सोने में खर्च करो 
(4) 8 घंटे में पूजा, ध्यान, जप इत्यादि करो 
Post a Comment