Latest Post

Sunday, 27 November 2016

Keep Faith in God / परमेश्वर में विश्वास रखें

परमेश्वर में विश्वास रखें 

ईश्वर पुत्र अरुण 

 Keep Faith in God

आज भगवान कल्कि की नजर आप पर है और आपकी हर बात को  वो बड़े ध्यान से सुनेंगे। परमेश्वर अपना वादा नहीं बदलेंगे। परमेश्वर अपने वादे को न तो तोड़ते हैं और न ही अपने वादे  में बदलाव करते हैं । परमेश्वर आपको  आरोग्य करने वाले हैं, वे आपको सभी बिमारियों को ठीक करके आनंद देने वाले हैं। वे आपको दिलासा देने वाले हैं, वे आपको बुद्धि, शांति एवं आनंद देने वाले हैं । वे आपके बीमारियों को ठीक करके आपको नया जीवन देने वाले हैं।  वे चाहते हैं कि आप उन पर विश्वास करें ताकि आप पर  उनकी कृपा और दया  हमेशा बरसती रहे।  परमेश्वर चाहते हैं कि आप उनमें सम्पूर्ण मन से  विश्वास करें  ताकि वे आपके आवश्यकताओं की प्रत्येक चीजों को पूरा करें । आप विश्वास के साथ उनमें स्थिर रहिये क्योंकि उन्होंने कहा कि मैं सब कुछ प्रदान करने वाला परमेश्वर हूँ । यदि आप  सचमुच परमेश्वर का आशीर्वाद पाना चाहते हैं  तो प्रार्थना में विश्वास के साथ उनकी प्रशंसा कीजिए  । विश्वास के बिना उन्हें  प्रसन्न करना असंभव है । इसलिए  परमेश्वर के पास आने वाले व्यक्ति को विश्वास करना चाहिए ताकि उसे प्रतिफल मिल सके । धर्मशास्त्र, इब्रानियों 11 : 6 में यह कहा गया है कि "विश्वास के बिना परमेश्वर को प्रसन्न करना अनहोना है , इसलिए  परमेश्वर के पास आने वाले को  विश्वास करना चाहिए कि वह है ; और अपने खोजने वालों को प्रतिफल देता है। " विश्वास समस्या की तरह ही अटल रहने वाला महत्वपूर्ण कारक है जिसकी तुलना कभी नहीं टलने वाली पहाड़ से की गई है। आप अपने सभी समस्याओं को परमेश्वर के ऊपर सौंप दीजिए और उनके वादे  पर विश्वास कीजिए। परमेश्वर आपके विश्वास का सम्मान करेंगे और आपके लिए सभी अच्छी चीजों  को उपस्थित करेंगे ।  विश्वास से ही नूह ने उन बातों के विषय में जो उस समय दिखाई न पड़ती थी, चुनौती पाकर भक्ति के साथ अपने घराने के बचाव के लिए जहाज बनाया। विश्वास से ही इब्राहिम की पत्नी सारा बूढी होने पर भी गर्भ धारण करने की सामर्थ पाई क्योंकि उसने करने वाले को सच्चा जाना था। (धर्मशास्त्र, इब्रानियों 11 : 7, 11) परमेश्वर आपके लिए जो योजना बनाए हैं वह दुख या पीड़ा का नहीं है।  क्या आप उनके हाथों के स्पर्श से चमत्कार चाहते हैं  या फिर आप अपने जीवन में दैवी हस्तक्षेप चाहते हैं ? धर्मशात्र, भजन संहिता 34:19 के अनुसार धर्मी पर बहुत सी विपत्तियाँ पड़ती तो है परन्तु परमेश्वर उनको उन सब से मुक्त करता है। परमेश्वर आपको बीमारी एवं समस्याओं से मुक्त कर देंगे और आपके दुःख भरे जीवन को आनंद में बदल देंगे। आप अपने हाथ को परमेश्वर के हाथ में दीजिए और सम्पूर्ण ह्रदय से परमेश्वर का अनुयायी बनिए तो आप पाएँगे कि जो भी असम्भव था वह भी सम्भव होगया।  मैं आप से सच कहता हूँ कि परमेश्वर  का कोई भी वादा फेल नहीं होगा। धर्मशास्त्र, यहोशू 23:14 में कहा गया है कि - जितनी भी अच्छी व् भलाई की बातें परमेश्वर ने हमारे विषय में कही उनमें से एक भी बिना पूरा हुए नहीं रही। " इसलिए आप कभी भी निराश नहीं हों कि परमेश्वर से मैं जिन बातों के लिए उम्मीद रखता हूँ वह पूरा होगा या नहीं। आपको और हमको परमेश्वर में पूर्ण विश्वास रखना होगा कि परमेश्वर मुझे निराश नहीं करेंगे और उन्होंने जो वादा किया है  उसको वे अवश्य ही पूरा करेंगे।    
  
Post a Comment