Header Ads

Top News
recent

21 जुलाई 2016 को गुरु पूर्णिमा के गुरुपर्व आप भी मनाईए



गुरु पूर्णिमा एक महीने तक मनाया जाता है।
आदि श्री अरुण 21 जुलाई 2016 को गुरु पूर्णिमा मनाएँगे।
गुरु पूर्णिमा के अवसर पर आपको लख - लख बधाइयाँ –
गुरु पूर्णिमा का इतिहास क्या है ?
गुरु पूर्णिमा राष्ट्रिय स्तर का पर्व है जो गुरु में समर्पण को व्यक्त करने के
लिए मनाया जाता है और यह सारे संसार में मनाया जाता है। प्राचीन
समय में गुरु वेद व्यास जी चार वेद लिखे थे जो भगवान ब्रह्मा जी के
द्वारा सुनाया गया था। सारे संसार के लोग गुरु वेद व्यास जी के इस
पुनित कार्य के लिए कर्जदार हैं। उन्होंने 18 महा पुराण लिखा। उस
समय गुरु के प्रति समर्पण को व्यक्त करने के लिए एक दिन निश्चित
किया गया जिसको गुरु पूर्णिमा पर्व कहते हैं ।
कार्य - क्रम : 
*गुरु वन्दना, गुरु पूजा, आदिश्री का सन्देश
प्रसारण एवं भण्डारा
*कल्कि महा अवतार ध्यान योग एवं मानव उत्थान समिति द्वारा हेल्थ चेकअप के लिए फ्री कैम्प लगाया गया है 
स्थान : कम्युनिटी सेंटर, रोहणी सेक्टर - 5
(रिठाला मेट्रो स्टेशन के नजदीक )
Post a Comment
Powered by Blogger.