Latest Post

Saturday, 7 May 2016

वह ईश्वर जो सभी देवों के देव हैं उन्होंने आदि श्री अरुण जी के द्वारा कहा

जब  कोई  विचार  अनन्य   रूप  से  मस्तिष्क   पर  अधिकार  कर  लेता  है  तब  वह  वास्तविक  भौतिक  या  मानसिक  अवस्था  में  परिवर्तित  हो  जाता  है। तुम्हारे अन्दर भी परिवर्तन आ सकता है जब  मेरी शिक्षा तुम्हारे अन्दर पूर्ण रूप  से तुम्हारे  मस्तिष्क   पर  अधिकार  कर  ले। (आदि श्री अरुण )


Post a Comment