Header Ads

Top News
recent

कल्कि जयन्ती आप भी मनाईए - आदि श्री अरुण

प्रभु कल्कि जी आवें आपके द्वार  
खुशियों से भर जाये आपका 
घर - द्वार 
कल्कि जयन्ती के प्रेयर फेस्टिवल दिन 
कल्कि जी की कृपा बरसे आप पर अपार 


मनुष्य को सोचसमझ कर व्यवहार करना चाहिए,क्योंकि किसी कारणवश यदि बात बिगड़ जाती है तो फिर उसे बनाना कठिन होता है ।जिस प्रकार यदि एकबार दूध फट गया तो लाख कोशिश करने पर भी उसे मथ कर मक्खन नहीं निकाला जा सकेगा।

18 मई 2016 को भगवान कल्कि जी की अध्यक्षता में आध्यात्मिक सम्मलेन
विशेष जानकारी के लिए संपर्क करें : ishwarputraarun@gmail.com

Post a Comment
Powered by Blogger.