Latest Post

Tuesday, 23 February 2016

सच - ईश्वर पुत्र अरुण



परमेश्वर जानते हैं कि संसार तो पड़ेशानियों में आएगी। इसलिए परमेश्वर न तो आपको छोड़ेगा और न त्यागेगा। समस्या हर किसी के जीवन में आती  है। समस्या यह नहीं जानती है कि आप धनि हैं या गरीब।  समस्या यह नहीं जानती है कि आप किस जाती के हैं। समस्या यह नहीं जानती है कि आप कौन सी भाषा बोलते हैं। समस्या यह नहीं जानती है कि आप कौन से मजहब के हैं। इसलिए परमेश्वर आपसे पूछते हैं कि आपको क्या चाहिए ? आपने जिसको मदद की वे आपको भूल गए। आपने जिससे प्यार किया वे आपको भूल गए। आपने जिसको अपना कहा वे आपको भूल गए। आपके भाई आपको भूल गए। आपके रिस्तेदार आपको भूल गए लेकिन परमेश्वर ने कहा कि मैं तुम्हें नहीं भूलूंगा। चाहे माता अपने दूधपिउवे बच्चे को भूल जाए परन्तु मैं तुमको नहीं भूलूंगा।  
Post a Comment