Latest Post

Monday, 14 December 2015

सम्पूर्ण मानव जाति के लिए सन्देश



परमेश्वर कौन हैं ?


परमेश्वर सम्पूर्ण मानव जाति  के रचैता हैं और वे आपसे बहुत प्यार करते हैं। आप सभी उनके द्वारा रचे गए हैं और वे आपके बारे में सब कुछ जानते हैं।
आपको परमेश्वर ने क्यों रचा ?

आप परमेश्वर के द्वारा इसलिए रचे गए ताकि आप परमेश्वर से सम्बन्ध बनाए रखें। परन्तु  परमेश्वर की आज्ञा नहीं मानने के कारण वह  बनाया गया  सम्बन्ध टूट गया। उसी पाप के कारण आपने परमेश्वर की महिमा को खो दिया।
केवल परमेश्वर ही उत्तम हैं, मनुष्य उत्तम नहीं है।  

चुकि पूर्णता आपके लिए अप्राप्य है इसलिए यही परमेश्वर को अप्राप्य बना दिया। पाप ने आपको परमेश्वर से अलग कर दिया। चुकि परमेश्वर जीवन के स्रोत हैं इसलिए परमेश्वर से अलग होने का अर्थ है मृत्यु। पाप की मजदूरी मृत्यु है लेकिन परमेश्वर का उपहार अनन्त जीवन है।
ईश्वरपुत्र आपको मृत्यु से बचाने आया है। 

परमेश्वर ने निर्णय लिया और आपके पाप की पिनाल्टी व् दंड को चुकाने के लिए  उन्होंने अपने पुत्र को पृथ्वी  पर भेजा। अब आपका विश्वास ही परमेश्वर के बीच फिर से  सम्बन्ध  स्थापित कर सकता है। आपके पापों  की माफी मिल सकती है और आप  अनन्त जीवन को प्राप्त कर सकते हैं।
परमेश्वर में विश्वास करके ही आप परमेश्वर का उपहार  मुफ्त में ले सकते हैं। 

पाप की माफी कार्य करके चुकता नहीं कर सकते हैं। परमेश्वर के पुत्र ने जो आपके लिए किया  है उस कर्म पर आधारित है मुफ्त में यह  "अनन्त जीवन" का उपहार । (It is a free gift based on what the Ishwar Putra did for you.)
परमेश्वर में आस्था और विश्वास रखने से  ही आपको पापों से छुटकारा मिल सकता है।


Post a Comment